दाल, प्याज महंगे, गोमूत्र पीजिए और गोबर खाइएः काटजू

नई दिल्ली (स्टिंग आप्रेशन ब्यूरो)-अक्सर विवादित बयान देकर सुर्खियों में रहने वाले सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश मार्कंडेय काटजू ने अब गोमूत्र पीने और गाय का गोबर खाने की बात कही है।
उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट पर खिला कि बैन गाय का मीट खाने पर है, गोबर खाने पर नहीं, आशा है यदि मैं गाय का गोबर खाऊंगा तो कोई मुझे नुकसान नहीं पहुंचाएगा।
यही नहीं, पूर्व जस्टिस ने कहा कि गाय का मांस खाने पर बैन है, गोबर खाने पर नहीं। उन्होंने दूसरे ट्वीट पर लिखा- ‘गो मांस खाने पर बैन है, गाय का गोबर खाने पर नहीं। इसलिए मैं आशा करता हूं कि अगर मैं गोबर खाना शुरू कर दूं तो कोई पीट-पीटकर मेरी हत्या नहीं करेगा।’
काटजू ने लिखा दवाइयां, दाल, प्याज महंगे हैं, गोमूत्र, गोबर से काम चलाइए। उन्होंने उम्मीद जताई कि गोमूत्र बीमारियों से बचाएगा और गोबर महंगे दाल और प्याज का अच्छा विकल्प है।
अपनी फेसबुक टाइमलाइन में काटजू ने कहा, साइलंट फिल्म गोल्ड रश में चार्ली चैप्लिन अपने जूते खुद ही खाने लगता है। क्या आप में से कोई ऐसा कार्टून बनाएंगे, जिसमें इंसान गोमूत्र पी रहा हो, गोबर खा रहा हो?
काटजू ने यह भी कहा है कि यदि कोई इस तरह का कार्टून उन्हें भेजेगा तो वह उसे अपनी वॉल पर जरूर पोस्ट करेंगे।
इससे पहले देश में बीफ पर मचे बवाल पर भी काटजू ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि मैं बीफ खाता हूं और खाता रहूंगा। देखता हूं मुझे कौन रोकता है।
ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड जैसे तमाम देश के लोग बीफ खाते हैं, तो वहां क्यों नहीं प्रतिबंध लगा दिया गया?
काटजू ने पहले भी उठाए हैं सवाल
काटजू ने इसके पहले भी बीफ को लेकर चल रही सियासत पर सवाल उठाए हैं। बीफ रखने की अफवाह पर दादरी में हुई हिंसा के बाद उन्होंने कहा था, ‘मैं बीफ खाता हूं और खाता रहूंगा। देखता हूं, मुझे कौन रोकता है।
दादरी जैसी घटनाएं राजनीतिक लोगों की शिकार हो जाती है। ऐसा ही हाल रहा तो देश में बहुत जल्द बगावत होगी।’
इसके साथ ही उन्होंने गाय माता कहे जाने पर भी सवाल उठाया था। उन्होंने कहा कि गाय तो जानवर है, वह इंसानों की माता कैसे हो सकती है, यह फालतू बात है। एक जानवर इंसान की मां कैसे हो सकती है।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com