सुप्रीम संकट- चीफ जस्टिस नाराज न्यायाधीशों से कर सकते हैं मुलाकात

55 judgesofsc-
नई दिल्ली (Sting Operation)- चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा बगावती तेवर अपनाने वाले चार न्यायाधीशों से आज मुलाकात कर सकते हैं। इनमें से दो न्यायाधीशों ने शनिवार को मुद्दा सुलझाने की ओर इशारा भी किया है। प्रेस कॉन्फ्रेंस करने वाले चार में से तीन जस्टिस राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से बाहर हैं और आज दोपहर तक उनके यहां वापस आने की संभावना है। जस्टिस कुरियन जोसेफ, जस्टिस रंजन गोगोई और अटार्नी जनरल के.के. वेणुगोपाल से मिल रहे संकेतों से इस विवाद पर सुलह के आसार नजर आ रहे हैं।
इससे पहले शनिवार को जस्टिस रंजन गोगोई ने कहा कि ‘कोई संकट नहीं है’। एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने कोलकाता पहुंचे न्यायमूर्ति गोगोई से पूछा गया था कि संकट सुलझाने के लिए आगे का क्या रास्ता है, इस पर उन्होंने यह जवाब दिया। इस सवाल पर कि उनका कृत्य क्या अनुशासन का उल्लंघन है, न्यायमूर्ति गोगोई ने टिप्पणी से इनकार कर दिया।
वहीं जस्टिस कुरियन जोसेफ ने भरोसा जताया कि उन्होंने जो मुद्दे उठाए हैं उनका समाधान होगा। कोच्चि स्थित पैतृक आवास पर मीडिया से रूबरू न्यायमूर्ति जोसेफ ने कहा कि उन्होंने न्याय और न्यायपालिका के हित में काम किया। उन्होंने कहा, एक मुद्दे की ओर ध्यान गया है। ध्यान में आने पर निश्चित तौर पर यह मुद्दा सुलझ जाएगा। दूसरी ओर अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने फिर उम्मीद जताई कि सुप्रीम कोर्ट के जज को लेकर शुरू हुआ विवाद जल्द ही सुलझ जाएगा। इससे पहले शुक्रवार को केके वेणुगोपाल ने कहा था कि प्रेस कॉन्फ्रेंस से बचा जा सकता था।
बार काउंसिल ने सात सदस्यीय समिति बनाई
बार काउंसिल ऑफ इंडिया (बीसीआई) ने सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा संकट पर चर्चा के लिए पांच वरिष्ठतम न्यायाधीशों को छोड़कर शीर्ष अदालत के अन्य सभी न्यायाधीशों से मिलने के लिए सात सदस्यीय दल का गठन किया है। वहीं सुप्रीम कोर्ट में जज बीएच लोया की मौत के मामले पर सुनवाई टल गई है। क्योंकि सुनवाई करने वाली पीठ यानी जस्टिस अरुण मिश्र और एम शंतरनागौडर की बेंच सोमवार को उपलब्ध नहीं है। अब सुनवाई 16 को होगी।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com