ओवैसी को सेना का करारा जवाब, शहीदों का धर्म नहीं होता

69 obesi
नई दिल्ली (Sting Operation)- शहीदों पर एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के आपत्तिजनक बयान को लेकर सेना ने करारा जवाब दिया है। और यह साफ कर दिया है कि शहीदों का कोई धर्म नहीं होता है। जीओसी नॉर्दर्न कमांड लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अन्बु ने कहा कि हम शहीदों का धर्म नहीं देखते हैं और जो लोग इस तरह का बयान दे रहे हैं वह भारतीय सेना के बारे में नहीं जानते हैं।
क्या कहा था ओवैसी ने?
सुंजवान आर्मी कैंप पर आतंकी हमले में शहीद जवानों पर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने विवादित बयान देते हुए एक दिन पहले मंगलवार को कहा था कि सुंजवान में सात में से पांच लोग कश्मीरी मुसलमान थे, जो मारे गए हैं। ओवैसी ने कहा कि जो मुसलमानों को आज भी पाकिस्तानी समझते हैं, उन्हें इससे सबक लेना चाहिए। इस दौरान ओवैसी ने जम्मू-कश्मीर में सत्तारूढ़ पीडीपी-बीजेपी गठबंधन पर भी निशाना साधा था। ओवैसी ने कहा था कि दोनों मिलकर ड्रामा कर रहे हैं और बैठकर मलाई खा रहे हैं।
हतोत्साहित दुश्मन कर रहे कैंप्स पर हमला
लेफ्टिनेंट जनरल देवराज ने कहा कि दुश्मन हतोत्साहित हैं। जब वह सीमा पर फेल होते हैं तो कैंप्स पर हमला करते हैं। देवराज ने दो टूक कहा कि जो भी देश के खिलाफ खड़ा होगा, वह आतंकी है और हम उससे सख्ती से निपटेंगे लेफ्टिनेंट जनरल देवराज ने शोपियां फायरिंग केस पर कहा कि वह नॉर्दर्न कमांड को हेड कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने मेजर आदित्य केस पर कहा कि इससे जवानों का मनोबल गिरा नहीं है।
सोशल मीडिया आतंक के लिए जिम्मेदार
लेफ्टिनेंट जनरल देवराज ने आतंक में शामिल हो रहे युवाओं पर चिंता जाहिर की। उन्होंने कहा , ‘निश्चित रूप से यह यह चिंता का विषय है। हमें इसपर ध्यान देने की जरूरत है।’ लेफ्टिनेंट जनरल देवराज ने आतंकी घटनाओं और आतंक से जुड़ रहे युवाओं के लिए सोशल मीडिया को भी जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, ‘बढ़ रही आतंकी घटनाओं के लिए सोशल मीडिया भी जिम्मेदार है। यहां बड़े पैमाने पर युवाओं को आकर्षित किया जा रहा है। मुझे लगता है कि हमें इस मुद्दे पर भी अब ध्यान देने की जरूरत है।’

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com