श्रीनगर मुठभेड़ः 32 घंटे बाद सुरक्षाबलों को मिली कामयाबी, दोनों आतंकी ढेर, तलाशी अभियान जारी

62 srinagar
नई दिल्ली(Sting Operation)- जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में सीआरपीएफ कैंप पर हमले की कोशिश में भागे आतंकियों को मार दिया गया है। सुरक्षाबलों ने लगभग 32 घंटे के ऑपरेशन के बाद दोनों आतंकियों को ढेर कर दिया। हांलांकि अभी आतंकियों के शव को तलाश किया जा रहा है।
उधर सुंजवान सैन्य शिविर में तलाशी के दौरान एक और जवान का शव बरामद होने के बाद जम्मू में हुए आतंकवादी हमले के मृतकों की संख्या बढ़कर सात हो गई है। सीएम महबूबा मुफ्ती ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी है
जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और उपमुख्यमंत्री निर्मल सिंह कैंप जाकर हमले में शहीद जवानों को अंतिम श्रद्धांजलि दी। इसके अलावा सीएम हमले में शहीद 4 जवानों के परिजनों से भी मिलीं और उनका साहस बढ़ाया।
ऑपरेशन जारी
इससे पहले सीआरपीएफ आईजी ऑपरेशन जुल्फिकार हसन ने बताया कि हम नहीं चाहते कि किसी नागरिक की जान जाए या किसी सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचे। इसलिए बहुत ही सावधानी से ऑपरेशन को अंजाम दिया जा रहा है। वहीं कश्मीर के आईजीपी स्वयं प्रकाश पाणि बोले- श्रीनगर में मुठभेड़ अंतिम चरण में है और कभी भी खत्म हो सकती है।
हेलिकॉप्टर से निगरानी
जम्मू के रायपुर में सुरक्षा बल का सर्च ऑपरेशन चल रहा है। क्षेत्र की निगरानी के लिए हेलीकॉप्टर का इस्तेमाल किया जा रहा है।
सुंजवां हमले में मरने वालों की संख्या बढ़ी
सेना ने मंगलवार को कहा कि छठे जवान का शव सोमवार शाम को तलाशी अभियान के दौरान बरामद हुआ। इसके बाद इस सैन्य शिविर पर शनिवार को हुए हमले में मृतकों की संख्या बढ़कर सात हो चुकी है। इस हमले में छह जवान शहीद हो चुके हैं और एक नागरिक की जान चली गई है। इसके अलावा महिलाओं और बच्चों सहित 10 अन्य घायल हैं।
दरअसल आतंकी सीआरपीएफ की श्रीनगर के करन नगर में 23वीं बटालियन के हेडक्वार्टर पर हमले की फिराक में थे। सुबह 4.30 बजे के करीब बटालियन के गेट पर संतरी ने दोनों आतंकियों को देखा था। दोनों आतंकी भागते हुए कैंप के पास बने एक मकान में जा छुपे। आतंकी जिस मकान में छुपे वो एसएमएचएस अस्पताल के पास है
सुरक्षाबलों ने इमारत के आसपास रह रहे लोगों को फौरन निकाला। तलाशी के दौरान आतंकियों ने करीब साढ़े नौ बजे फायरिंग शुरू कर दी। अस्पताल पर ही कुछ दिनों पहले आतंकियों ने हमला किया था और अपने साथी को छुड़ा कर ले भागे थे। संतरी की मुस्तैदी ने इस हमले को नाकाम कर दिया, लेकिन एनकाउंटर के दौरान सीआरपीएफ के जवान मोजाहिद शहीद हो गए।
बता दें कि तीन दिन में सुरक्षा बलों पर ये तीसरा बड़ा हमला है। कल श्रीनगर में सीआरपीएफ के कैंप पर हमला हुआ। शनिवार को जम्मू के सुंजवां आर्मी कैंप पर आतंकियों ने हमला किया था, जिसमें हमारे पांच जवान शहीद हो गए थे।
रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने सुंजवां आर्मी कैंप में 51 घंटे तक चले काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशन के समाप्त होने की पुष्टि कर दी। उन्होंने आर्मी कैंप का हवाई सर्वेक्षण करने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस किया। रक्षा मंत्री ने कहा, ‘सुंजवां आर्मी कैंप में सेना का काउंटर टेररिस्ट ऑपरेशन सोमवार सुबह 10:30 बजे समाप्त हो गया। इस आतंकी हमले में सेना के 5 जवान शहीद हुए और एक आम नागरिक की मौत हुई। सेना ने अपने ऑपरेशन में तीन आतंकवादियों को मार गिराया। उन्होंने क​हा कि चार आतंकवादियों के होने की रिपोर्ट्स थीं। चौथा आतंकी शायद गाइड हो और आर्मी कैंप में दाखिल ना हुआ हो।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com