भारतीय कैदियों की रिहाई पर सुषमा स्‍वराज के सुझाव को पाक का समर्थन

48 sushma
नई दिल्‍ली (Sting Operation)- भारत-पाकिस्‍तान के असैन्य कैदियों की रिहाई और पुनर्वास के लिए काम करने के विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज के सुझाव पर पाकिस्तान ने बुधवार को सकारात्मक रूप से जवाब दिया है। यह जानकारी विदेश मंत्रालय की ओर से दी गयी है।
विदेश मंत्रालय ने अपने बयान में कहा, ‘भारतीय विदेश मंत्रालय ने 2017 के अक्‍टूबर में पाकिस्‍तान उच्‍चायोग को सुझाव दिया था कि बुजुर्गों, महिलाओं, बच्‍चों और मानसिक तौर पर बीमार कैदियों से संबंधित मानवीय मुद्दों पर दोनों देशों के बीच वार्ता आगे बढ़ सकती है।‘
विदेश मंत्रालय ने आगे कहा कि मेडिकल एक्‍सपर्ट की टीम को भी मानसिक तौर से बीमार कैदियों से मिलने के लिए भेजा जाएगा ताकि कैदियों की स्‍वदेश वापसी सुविधाजनक हो सके।
विदेश मंत्रालय ने कहा, ‘ज्‍वाइंट ज्‍यूडिशल कमिटी के फिर से दौरे पर भी पाकिस्‍तान सहमत हो गया है जो एक दूसरे के जेल में बंद मछुआरों व कैदियों के मामले को देखता है।‘ इससे पहले ऐसी कमिटी 2013 के अक्‍टूबर में भारत गई थी।‘ बता दें कि आज ही पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री ख्‍वाजा मोहम्‍मद आसिफ ने भारत और अपने देश में कैद बंदियों के लिए मानवीय आधार को मंजूरी दी।
पाकिस्‍तान विदेश कार्यालय के प्रवक्‍ता की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘पाकिस्‍तान के विदेश मंत्री ख्‍वाजा मोहम्‍मद आसिफ ने कैदियों की तीन कैटेगरी- महिलाएं, मानसिक तौर पर अस्‍वस्‍थ या विशेष जरूरतमंदों और 70 साल से अधिक उम्र वालों की रिहाई पर विचार करने की मंजूरी दे दी।‘
इसमें आगे कहा गया कि आसिफ ने 60 साल से अधिक उम्र वालों व 18 साल से कम उम्र वाले बाल कैदियों की अदला-बदली को मंजूर कर लिया है।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com