2016 में भारत में एक लाख बच्चों की जहरीली हवा के चलते मौत:डब्ल्यूएचओ

भारत में 2016 में पांच साल से कम उम्र के एक लाख से ज्यादा बच्चों की जहरीली हवा के चलते मौत हो गई। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के एक अध्ययन में यह बात सामने आई है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि दुनिया के निम्न और मध्यम आय वाले देशों के पांच साल से कम उम्र के 98% बच्चे वायु प्रदूषण से प्रभावित हुए।डब्ल्यूएचओ ने सोमवार को एयर पॉल्यूशन एंड चाइल्ड हेल्थ: प्रिस्क्राइबिंग क्लीन एयर’ शीर्षक से रिपोर्ट जारी। इसके मुताबिक 2016 में वायु प्रदूषण से दुनिया में 15 साल से कम उम्र के छह लाख बच्चों की मौत हो गई।

रिपोर्ट के मुताबिक- दुनिया के 18 साल से कम उम्र के 93% बच्चों पर पीएम 2.5 (हवा में 2.5 माइक्रोमीटर से कम आकार के कण) का असर पड़ा। जबकि इससे पांच साल से कम उम्र के 63 करोड़ और 15 साल से कम उम्र के 1.8 अरब बच्चे प्रभावित हुए।ग्रीनपीस के मुताबिक- 2016 में पीएम 2.5 और इससे हुई बीमारियों से पांच साल से कम उम्र के 1 लाख 1 हजार 788 बच्चों की मौत हुई। इनमें 54 हजार 893 लड़कियां और 46 हजार 895 लड़के थे। इसी साल भारत में वायु प्रदूषण के चलते 60 हजार 987 लोगों की जान गई।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com