नोटबंदी, जीएसटी से डगमगाई भारत की अर्थव्यवस्था:रघुराम राजन

नोटबंदी और जीएसटी से पिछले साल भारत की आर्थिक विकास दर में गिरावट आई। वहीं, सात फीसदी की मौजूदा विकास दर भारत की जरूरतों के लिए पर्याप्त नहीं है। ये बातें भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन ने शुक्रवार को कहीं। वे बर्कले स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफॉर्निया में मौजूद थे।राजन ने ‘फ्यूचर ऑफ इंडिया’ पर लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘2012 से 2016 तक भारत की विकास दर काफी तेज रही। नोटबंदी और जीएसटी विकास दर के लिए बड़े झटके साबित हुए, जिसका गंभीर असर पड़ा। इससे विकास दर ऐसे वक्त गिरी, जब वैश्विक अर्थव्यवस्था काफी तेज थी।’’उन्होंने कहा, ‘‘सच यही है कि सात फीसदी की विकास दर उन लोगों के लिए पर्याप्त नहीं है, जो श्रम बाजार में आ रहे हैं। उन्हें रोजगार देने की जरूरत है। इस वजह से हमें अधिक विकास दर की जरूरत है। सात फीसदी की विकास दर से हम संतुष्ट नहीं हो सकते।’’

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com