सेना ने पाकिस्‍तानी फौज से कहा, ले जाओ अपने बैट जवानों के शव, लेकिन रखी यह शर्त

senane

नई दिल्‍ली। पाकिस्‍तान अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पाकिस्तानी सेना और आतंकियों के बैट (बॉर्डर एक्शन टीम) दस्ते ने शनिवार को उत्तरी कश्मीर के केरन (कुपवाड़ा) सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर एक भारतीय सैन्य चौकी पर हमले का प्रयास किया, जिसे सेना ने नाकाम करते हुए सात बैट हमलावर मार गिराए। भारतीय सेना ने रविवार को पाकिस्तानी फौज को एलओसी पर मारे गए बैट जवानों/आतंकियों के शवों को ले जाने का प्रस्ताव भेजा।सैन्य अधिकारियों के अनुसार, केरन सेक्टर में केल कुल्लियां इलाके से पाकिस्तानी सेना के बैट दस्ते ने भारत की एक अग्रिम निगरानी चौकी पर बड़ा हमला करने के लिए नियंत्रण रेखा पार की। भारत की निगरानी चौकी में तैनात सतर्क जवानों ने बैट दस्ते को देख लिया। जैसे ही बैट दस्ता एलओसी से आगे पहुंचा, जवानों ने उसे ललकारते हुए फायरिंग शुरू कर दी। जान बचाकर भागते हुए बैट दस्ते के सदस्यों को एलओसी के पास गिरते देखा गया है। सूत्रों ने बताया कि सीमा पर तनाव और गोलीबारी के चलते शवों को हटाया नहीं जा सका है। सेना ने सबूत के तौर पर उनमें से चार शवों की सैटलाइट तस्वीरें ली हैं। बैट दस्ते में करीब सात सदस्य शामिल थे। दो शव एलओसी पर पाकिस्तानी सेना की सीधी फायरिंग रेंज में पड़े हैं और चार से पांच शव पाकिस्तानी इलाके में ही हैं। बता दें कि पाकिस्तान की ओर से कश्मीर में शांति भंग करने की लगातार कोशिश की जा रही है।सूत्रों की मानें तो पाकिस्‍तानी सेना सीमा पर फायरिंग की आड़ में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकियों की भारत में घुसपैठ कराने की फिराक में है। खुफ‍िया इनपुट के मुताबिक, जैश-ए-मोहम्‍मद (Jaish-e-Mohammad) के करीब 15 आतंकी घुसपैठ की ताक में हैं। इसीलिए वह सीमा पर रुक रुक कर फायरिंग कर रहा है। यही वजह है कि भारतीय सेना ने पाकिस्‍तानी फौज को सफेद झंडे के साथ आने प्रस्ताव दिया है। हालांकि, पाकिस्‍तान की ओर से अभी तक कोई जवाब नहीं आया है।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com