महिला का डरावना अनुभव; UBER ड्राइवर आधी रात को बोला, ‘कैब से उतरो नहीं तो कपड़े फाड़ दूंगा’

mahilaka

बेंगलुरू। क्या भारत में महिलाएं सेफ हैं? अगर हां तो हाल में हो रहे महिलाओं के प्रति कुछ मामले इस बात की गवाही बिल्कुल नहीं देते हैं। भारत महिलाओं के लिए एक सुरक्षित जगह नहीं है और हाल के कई उदाहरण इस बात पर खड़े भी उतरते है। दिन ढलते ही कैब ड्राइवरों द्वारा परेशान हो रही महिलाएं के लिए स्थिति बदतर होती जा रही है। एक लंबे समय भारत में महिलाएं इन सब चीजों की वजह से परेशानी झेल रही है। तमाम महिला सुरक्षा को लेकर कदम उठाए गए, लेकिन यहां एक महिला के साथ हुए दुर्व्यवहार ने सभी सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल दी है।बेंगलुरु में उबर ड्राइवर द्वारा एक महिला को परेशान किए जाने की एक और घटना सामने आई है। अपर्णा बालाचंदर, जो कर्नाटक के बेंगलुरु की निवासी हैं, उन्होंने ट्विटर पर अपने एक बुरे सपने की घटना को साझा किया। उन्होंने अपने अनुभव को ट्वीट किया, ‘उन्होंने कहा कि मुझे महिलाओं की सावधानी और उनमें जागरूकता फैलाने के लिए एक मिनट चाहिए। कैब चालक के साथ आज रात हुए मेरे दर्दनाक अनुभव को पढ़ने की सभी को आवश्यकता है, मेरी मदद करें ताकि मैंने जो झेला वो किसी और को ना देखने को मिले’।अपर्णा ने लिखा, ‘आज, मुझे अपने जीवन का सबसे डरावना अनुभव हुआ। मैं अपने दोस्तों के साथ रात को खाने के बाद उबर कैब में घर की ओर जा रही थी। तभी कैब ड्राइवर अपने दोस्त को फोन पर मेरे बारे में गलत बताने लगा। अचानक उसने मेरी ओर रुख किया। बोलने लगा कि एक शिक्षित महिला को शाम 7 बजे से पहले काम को छोड़ देना चाहिए और साथियों के साथ बाहर शराब नहीं पीनी चाहिए’।महिला ने कैब ड्राइवर से कहा कि उन्होंने शराब नहीं पी है और उन्हें अपने काम से मतलब रखना चाहिए, लेकिन इसके बाद ड्राइवर ने उन्हें ‘स्लट’ बताते हुए भद्दी बातें कही। फिर ड्राइवर ने कैब धीमी कर दी, इससे महिला अचानक डर गई। अपर्णा ने कंपनी से बातचीत भी शेयर की।तब महिला ने सेफ्टी बटन दबाया, लेकिन उबर ने महिला से बात करने से पहले ड्राइवर को कॉल किया और ड्राइवर से बात करना सही समझा। इसी दौरान महिला पर और ज्यादा भड़क गया ड्राइवर। आखिरकार उसने ऐसी बात कही दी, जिससे कोई भी महिला डर के मारे घबरा जाए। ड्राइवर ने महिला से कहा, ‘कैब से उतरो नहीं तो तुम्हारे कपड़े फाड़ दूंगा’।आखिर जब महिला से उबर के कस्टमर केयर एग्जेक्यूटिव की बात हुई तो उन्होंने महिला को कैब से उतरने के लिए कहा। वहीं वादा किया गया कि आपके लिए दूसरी कैब भेजी जाएगी, लेकिन बाद में कोई भी कैब नहीं भेजी गई। आधी रात को महिला अकेली सड़क पर खड़ी रही। फिर महिला ने अपने दोस्तों से मदद मांगी।अपर्णा ने आरोप लगाया कि मैं इस मुद्दे को न केवल इसलिए उठा रही हूं क्योंकि मैं अनुभव से घबराई हुई हूं बल्कि इसलिए भी कि उबर की ‘सेफ्टी’ प्रणाली बेहद गड़बड़ है। सुरक्षा के लिए चिंता जता रहे ग्राहक को कॉल ना करके ड्राइवर को कैसे किया जा सकता है?, उबर ने कहा है कि वह मामले की जांच कर रही है। बता दें कि यह पहली बार नहीं है कि जब उबर के ऐसे कुछ मामले सामने आए हो। अतीत में, उबर ड्राइवरों द्वारा बलात्कार के भी मामले सामने आ चुके हैं। वहीं गलत व्यवहार को लेकर भी काफी सारी शिकायतें दर्ज की गई हैं।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com