विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान के गांव में उत्साह से मनेगा स्वतंत्रता दिवस

wingcommander

नई दिल्ली। तिरुपन्नमूर गांव में स्वतंत्रता दिवस की तैयारियां जोरों से चल रही हैं। जैन मंदिरों के लिए ख्यात इस गांव में ही नहीं बल्कि चेन्नई से लेकर कांचीपुरम और तिरुवन्नामलाई तक, करीब दो सौ किलोमीटर के इस पूरे बेल्ट में मानो एक अलग ही उत्साह है। यह उत्साह नया नहीं है बल्कि गत फरवरी से कायम है और जैसे-जैसे 15 अगस्त करीब आ रहा है, यह और भी बढ़ता जाता है।जी हां, हम बात कर रहे हैं करोड़ों दिलों के चहेते विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान के पैतृक गांव तिरुपन्नमूर की, जहां अपने इस लाड़ले को केंद्र में रखकर ही इस बार स्वातंत्रोत्सव मनेगा। स्थानीय छात्र टी. धनशेखरन ने बताया, बूढ़े हों, बच्चे हों या युवा, यहां हर कोई अभिनंदन का फैन है। बच्चों में अभिनंदन को लेकर कुछ खासा ही क्रेज है।बड़े होकर फाइटर पायलट बनने का ख्बाव देखने लग गए हैं। अभिनंदन स्टाइल की मूछें युवाओं के लिए ट्रेंड बन चुकी हैं। इस स्वतंत्रता दिवस पर हमारे हीरो अभिनंदन ही केंद्र में होंगे। राजधानी चेन्नई से करीब 192 किमी दूर तमिलनाडु के तिरुवन्नामलाई जिले के वेंबक्कम ब्लॉक का एक छोटा सा गांव है तिरुपन्नमूर। तहसील चेय्यर की तिरुप्पनमुर पंचायत में इस गांव के अलावा सुमंगली, पिलंथंगल, कागनम और चित्रथुर गांव भी शामिल हैं। वेंबक्कम ब्लॉक के अलावा चेय्यर तहसील के कांचीपुरम, अन्नकवूर और वालजाबाद ब्लॉक के दर्जनों गांवों सहित तिरुवतिपुरम, उथिरामेरुर, वंदावसी जैसे छोटे- बड़े नगर।चेय्यर तहसील के दुसी गांव में मौजूद इलाके के एकमात्र इंजीनियरिंग कॉलेज दुसी पॉलीटेक्निक कॉलेज के इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग संकाय के छात्रों ए. विनोद, पी. करुणाकरन, जे. सत्यमूर्ति ने कहा, यहां ही नहीं इस पूरे क्षेत्र में अभिनंदन से बड़ा हीरो और कोई नहीं। जैसे रील लाइफ में रजनीकांत हैं, वैसे ही रीयल लाइफ में अभिनंदन। वह हमारे दिलों की धड़कन बन चुके हैं। विनोद ने कहा, हमें गर्व है कि हम हमारे इस हीरो की जन्मभूमि से ताल्लुक रखते हैं। कांचीपुरम से लगभग 19 किमी की दूरी पर स्थित तिरुपन्नमूर और कारंथई जुड़वा गांव हैं।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com