बिहार: रिश्वत के लिए इंजीनियर ने ठेकेदार को जिंदा जलाया था!

 

biharishwatपटना। बिहार के गोपालगंज में रिश्वत के लिए एक इंजीनियर ने एक ठेकेदार को दर्दनाक मौत दी औऱ उसके बाद वह फरार है। हत्या से पहले रिश्वत मांगने का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें जल संसाधन विभाग का कार्यपालक अभियंता सत्येन्द्र कुमार रिश्वत की मांग कर रहा है। वीडियो में साफ दिख रहा है कि उसे घूस के तौर पर 30 हजार रूपये दिए भी गए हैं। लेकिन वह पूरे पैसे एक साथ लेने की मांग कर रहा है।बता दें कि तीन दिन बीत गए हैं। लेकिन, ठेकेदार रामाशंकर सिंह हत्याकांड के आरोपी अभी तक फरार हैं। चीफ इंजीनियर सहित अधीक्षण अभियंता और कार्यपालक अभियंता इन सबकी गिरफ़्तारी के लिए पुलिस हाथ-पांव मार रही है।बता दें कि इस वीडियो को मृतक ठेकेदार रमाशंकर सिंह के बेटे राणा प्रताप सिंह ने बनाया है। वीडियो में साफ दिख रहा है कि जल संसाधन विभाग का कार्यपालक अभियंता अपने घर पर कुर्सी पर बैठा है। वहां उसके सामने एक व्यक्ति पैसे को लेकर बातचीत कर रहा है। इसके साथ ही टेबल पर उसे घूस देने के लिए 30 हजार रूपये जो पांच सौ के नोट है, उसे रखता है।बातचीत के दौरान मृतक का बेटा लगातार पैसे की तंगी और बैंक अकाउंट को सीज करने की गुहार लगा रहा है।वह साफ़ कह रहा है की उसने जेई, एसडीइ और अन्य लोगों को उनका हिस्सा दे दिया है। अब वह कार्यपालक अभियंता के पास भी पैसे देने के लिए है। लेकिन अभी सिर्फ कुछ पैसे ले ले और बाकी कमीशन का पैसा वह चार पांच दिन में देगा। अभियंता लगातार उसकी बात सुन रहा है।बहरहाल, इस वीडियो के सामने आने के बाद आरोपी अभियंताओं की मुश्किलें बढ़ गयी हैं। वीडियो के खुलासे के बाद पीड़ित पक्ष का जो दावा था, वह साबित होता दिख रहा है। क्योंकि मृतक ठेकेदार के बेटे का आरोप है कि15 लाख घूस नहीं मिलने से चीफ इंजीनियर मुरलीधर सिंह , अधीक्षण अभियंता जीतेन्द्र प्रसाद सिंह और कार्यपालक अभियंता सत्येन्द्र कुमार, चीफ इंजिनियर की पत्नी ने मिलकर उनके पिता को जिन्दा जला कर उनकी हत्या कर दी।वहीं शनिवार को फरार आरोपी चीफ इंजिनियर के घर से 02 लाख 74 हजार रूपये कैश, करीब 300 सोने के गहने बरामद किए गए हैं। इसके साथ ही जांच अधिकारियों ने कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज भी जब्त किए हैं, जो इस हत्याकांड से जुड़े हुए बताए जा रहे हैं।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com