रिसर्च में आया सामने, हार्ट का हुआ है आपरेशन तो योग करने से बढ़ेगी लाइफ लाइन

researchme

नई दिल्ली। योग का महत्व दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। एक शोध के दौरान ये सामने आया है कि जिन लोगों को एक बड़ा हार्ट अटैक पड़ा है यदि वो रोजाना एक घंटा योग करते हैं तो उनको दुबारा से हार्ट अटैक पड़ने की संभावना एकदम से खत्म हो जाती है। शोध में ये भी सामने आया है कि योग करने से ऐसे लोगों का हृदय ठीक गति से काम कर रहा होता है। 2500 लोगों पर ये सर्वे किया गया। दरअसल इन 2500 लोगों ने अपने हार्ट की सर्जरी कराई थी, सर्जरी के बाद उनको योगा के माध्यम से उनको सांस लेने और हृदय को ठीक रखने से संबंधित एक्सारसाइज कराई गई। यूरोपियन सोसाइटी ऑफ कार्डियोलॉजी कांग्रेस पेरिस की भारत में एक टीम की ओर से ये रिसर्च प्रस्तुत की गई। इस रिसर्च को यूरोपियन सोसायटी ऑफ कार्डियोलाजी कांग्रेस के सामने प्रस्तुत किया गया। इस रिसर्च में ये पाया गया कि जिन लोगों के हार्ट का आपरेशन किया गया हो, उसके बाद उनको तीन माह तक योग कराया जाए तो दुबारा से उनको हार्ट अटैक की संभावना कम हो जाती है। इसके अलावा वो स्वस्थ भी रहते हैं। जो लोग रोजाना एक घंटे की सांस लेने का अभ्यास करते है और सामान्य गति से चलते हैं उनके अगले 5 साल तक की जिंदगी में इजाफा हो जाता है। दिल का दौरा पड़ने के बाद एक वर्ष में 100,000 से अधिक ब्रिटनों को अस्पताल में भर्ती कराया जाता है।
तीन माह तक एक घंटे योगा:-जयपुर के हृदय गणेश सुनील मेमोरियल सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के प्रमुख शोधकर्ता प्रोफेसर नरेश सेन ने कहा कि ‘योग शाखा में हृदय रोग के मरीजों को विशेष रूप से रोजाना एक घंटे योगा का कार्यक्रम कराया जाता है, तीन महीने तक मरीजों को ये कार्यक्रम कराया गया, इसमें सुबह योग और ध्यान शामिल किया गया था, शाम को धीमी और तेज़-सांस लेने वाले योग को शामिल किया गया था।इस तरह से सांस लेने के व्यायाम का एक पैटर्न रखा गया था। योग और सांस लेने के व्यायाम मेटाबोलिज्म को कम करने, ऑक्सीजन की मांग को कम करने और वेंट्रिकुलर रीमॉडेलिंग [दिल को नुकसान] को रोकने में मदद करते हैं।। परीक्षण में ऐसे मरीज शामिल थे, जिन्हें सबसे गंभीर प्रकार का दिल का दौरा पड़ा था, उनके दिल में स्टंट पड़ा था, स्टंट डाले जाने के बाद ऐसे मरीजों के शरीर की धमनियों में रुकावट खत्म हो गई थी, वो सामान्य रफ्तार से चल रही थी।
हार्ट अटैक क्या है?:-आंकड़े बताते हैं कि ब्रिटेन में हर साल दिल के दौरे के कारण 2, 00,000 मरीज अस्पताल का दौरा करते हैं जबकि अमेरिका में सालाना लगभग 8, 00,000 लोग जाते हैं। एक दिल का दौरा, जिसे चिकित्सकीय रूप से मायोकार्डियल (myocardial infarction) के रूप में जाना जाता है। ऐसा तब होता है जब हृदय को रक्त की आपूर्ति अचानक अवरुद्ध हो जाती है। इसके लक्षणों में छाती में दर्द, सांस की तकलीफ और कमजोर और चिंतित महसूस करना शामिल है।दिल का दौरा आमतौर पर कोरोनरी हृदय रोग के कारण होता है, ये धूम्रपान, उच्च रक्तचाप और मधुमेह की वजह से पैदा होते हैं। उपचार आमतौर पर ब्लॉकेज को हटाने के लिए ब्लॉट्स क्लॉट या सर्जरी को भंग करने के लिए दवा है। हार्ट अटैक कार्डियक अरेस्ट से अलग होते हैं, ये तब होता है जब दिल अचानक शरीर के चारों ओर रक्त पंप करना बंद कर देता है।
रोगियों को तीन माह के कार्यक्रम पर रखा गया;-आधे रोगियों को योग के तीन महीने के कार्यक्रम पर रखा गया था, जो दिन में एक घंटे चलता था। सुबह के सत्रों में व्यायाम और ध्यान शामिल होता था, जबकि शाम को वे ‘प्राणायाम’ का अभ्यास करते थे – सांस नियंत्रण का हठ योग। अगले पांच वर्षों में जिन लोगों को कक्षाएं नहीं दी गईं उनमें मृत्यु दर 25 फीसदी थी। लेकिन योग समूह में, यह 21 प्रतिशत था। शोधकर्ताओं ने यह भी पाया कि उनके दिल के प्रदर्शन में भी सुधार हुआ था, बाएं वेंट्रिकुलर इजेक्शन अंश को 11 प्रतिशत बढ़ावा देने के साथ – दिल की रक्त पंप करने की क्षमता का एक उपाय। इसकी तुलना में, जिन्होंने योग नहीं किया, उनमें केवल चार प्रतिशत की वृद्धि देखी गई।
योग तनाव को दूर करने और स्वस्थ बेहतर करने में करता है मदद:-प्रोफेसर सेन ने कहा कि रोगी समूहों के बीच अंतर के लिए समायोजन के बाद भी लाभ बना रहा। ब्रिटिश हार्ट फाउंडेशन में एसोसिएट मेडिकल डायरेक्टर प्रोफेसर जेरेमी पियर्सन ने कहा कि योग का अभ्यास उच्च रक्तचाप जैसे जोखिम कारकों को नियंत्रित करने में मदद कर सकता है, जो हमारे हृदय और संचार रोगों के जोखिम को बढ़ाते हैं। इस बात के भी कई प्रमाण हैं कि योग तनाव को दूर करने और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है जिससे हमें अस्वास्थ्यकर जीवनशैली विकल्प बनाने में मदद मिलती है, जैसे कि हम धूम्रपान करते हैं।यह देखने के लिए बहुत ज्यादा खिंचाव नहीं है कि अगर आपको दिल का दौरा पड़ा है तो यह जीवित रहने में सुधार क्यों कर सकता है। आप इसे करने के लिए जो भी रास्ता चुनते हैं, व्यायाम और तनाव को कम करने के लिए नियमित रूप से समय लेना आपके दिल के लिए अच्छा है। योग को 5,000 वर्षों से अधिक समय से अभ्यास किया जा रहा है, भारत में सौम्य व्यायाम, सांस लेने की तकनीक और हल्के ध्यान के रूप में विकसित किया गया है। ‘इस बात के भी कई प्रमाण हैं कि योग तनाव को दूर करने और मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है। अगर आपको दिल का दौरा पड़ा है तो योग करके आप अपने जीवन के दिन को बढ़ा सकते हैं, इससे इसमें सुधार भी संभव है। आप इसे करने के लिए जो भी रास्ता चुनते हैं, व्यायाम और तनाव को कम करने के लिए नियमित रूप से समय लेना आपके दिल के लिए अच्छा है। भारत में 5,000 सालों से अधिक समय से योग का अभ्यास किया जा रहा है।
ब्रिटेन में 3,600 से अधिक लोग ब्रिटिश व्हील ऑफ योग से जुड़े:-कई लोगों के लिए, यह धर्म और दर्शन के साथ निकटता से जुड़ा हुआ है, अकेले ब्रिटेन में 3,600 से अधिक लोग ब्रिटिश व्हील ऑफ योग से जुड़े हुए हैं। योग के लिए राष्ट्रीय शासी निकाय जो मन के बीच संस्कृत शब्द के अर्थ ‘संघ के रूप में खोज को परिभाषित करता है शरीर और आत्मा ‘और एक’ दर्शन ‘। लेकिन हजारों अन्य लोगों के लिए यह आधुनिक जीवन के दबाव के बीच फिट रहने और शांत बने रहने का एक लोकप्रिय तरीका है। ये दो अलग-अलग दृष्टिकोण 2012 में एक हेड के लिए आए थे। साउथेम्प्टन में एक चर्च हॉल से एक योग समूह पर प्रतिबंध लगा दिया गया था क्योंकि एक पुजारी ने कहा था कि यह प्रथा एक हिंदू धार्मिक गतिविधि थी और इसलिए कैथोलिक विश्वास के अनुरूप नहीं थी।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com