MV Act: कहीं भी कभी भी यातायात नियम तोड़ा तो भारी जुर्माने संग घर पहुंच जाएगा चालान

mvactkhin

नई दिल्ली।New Motor Vehicle Act देश भर में लागू हो चुका है और इसके साथ ही इसके भारी जुर्माने की खबरें मीडिया की सुर्खियां भी बनने लगी है। भारी भरकम जुर्माने के पांच मामले अब तक दिल्ली-एनसीआर से सामने आ चुके हैं। शुरूआत गुड़गांव में एक स्कूटी का 23 हजार रुपये के चालान के साथ हुई थी। इन खबरों ने जहां कुछ वाहन चालकों की धड़कनें बढ़ा दी हैं, वहीं अब भी बहुत से वाहन चालक यातायात नियमों का धड़ल्ले से उल्लंघन कर रहे हैं। अगर आप भी ऐसा कर रहे तो सावधान हो जाएं।घर से बिना हेलमेट या सीट बेल्ट लगाए, अगर आप ऑफिस पहुंच गए और रास्ते में किसी पुलिस वाले ने नहीं पकड़ा तो खुश न हों। हो सकता है नए मोटर वाहन अधिनियम के भारी जुर्माने के साथ चालान आपके घर पहुंचने वाला हो। एक सितंबर से नया MV Act देश के ज्यादा राज्यों में लागू हो चुका है। इसके लागू होते ही पुलिस ने यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ विशेष अभियान चलाकर भारी जुर्माने के साथ चालान भी शुरू कर दिए हैं। इसकी बदौलत आप कहीं भी और किसी भी वक्त यातायात नियम का उल्लंघन करें, आपका चालान कट सकता है और आपके घर पहुंच सकता है।
पुलिस ने बदला चालान का तरीका;-न्यू मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के साथ ही पुलिस ने चालान का तरीका भी बदल दिया है। पुलिस अब पहले की तरह पीछा कर या रोककर ऑन स्पॉट चालान करने की जगह ई-चालान पर फोकस कर रही है। मतलब आप नियम तोड़कर बड़े मजे से जा रहे हैं तो संभल जाएं, क्योंकि आपको पता भी नहीं चलेगा और भारी जुर्माने के साथ ई-चालान आपके घर पहुंच जाएगा।
क्या है ई-चालान;-ई-चालान का मतलब है इलेक्ट्रॉनिक चालान, जो कैमरे की मदद से किया जाता है। इसके तहत ट्रैफिक पुलिस, अपने मोबाइल कैमरे या बॉडी कैम या चौराहों पर लगे कैमरों की मदद से यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले वाहन चालकों पर नजर रखती है। जो भी वाहन चालक यातायात नियमों का उल्लंघन करते कैमरे में कैद होता है, ट्रैफिक पुलिस अपने ऑफिस या कंट्रोल रूम में बैठकर कंप्यूटर के जरिए उनका फोटो युक्त चालान काटती है। इसके बाद इस चालान को डाक के जरिए आपके घर भेज दिया जाता है। इसके अलावा कुछ राज्यों में पुलिस ने अब वाहन स्वामी को ई-चालान का एसएमएस अलर्ट भी भेजना शुरू कर दिया है।
कोई भी करा सकता है चालान:-अगर आप पुलिस के कैमरों या चौराहों पर लगे कैमरे से बच गए तो भी आपका ई-चालान कट सकता है। जी हां, कोई भी व्यक्ति यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले का क्लियर वीडियो बनाकर या फोटो खींचकर उसका चालान करा सकता है। इसके लिए संबंधित व्यक्ति को फोटो या वीडियो बनाकर तिथि, समय और स्थान के साथ उस क्षेत्र की पुलिस को जानकारी उपलब्ध करानी है। ये जानकारी सोशल मीडिया के जरिए भी पुलिस को उपलब्ध कराई जा सकती है। नोएडा, दिल्ली समेत कई जगहों की पुलिस को सोशल मीडिया से प्रतिदिन इस तरह की तस्वीरें और वीडियो प्राप्त हो रही हैं और पुलिस उनके आधार पर संबंधित वाहन चालक का ई-चालान कर रही है।
पुलिस के लिए आसान है ई-चालान:-पुलिस के लिए भी ई-चालान आसान और सुविधाजनक है। मतलब पुलिस को कड़ी धूप में खड़े होने, जान जोखिम में डाल वाहन चालक को रोकने और फिर चालान काटने के लिए उससे बहस करने की कोई जरूरत नहीं है। इतना ही नहीं ई-चालान चूंकि फोटो के साथ होता है, लिहाजा वाहन चालक पुलिसकर्मी पर बेबुनियाद आरोप भी नहीं लगा सकता। फोटो युक्त चालान होने की वजह से कोर्ट में भी इसे चुनौती नहीं दी जा सकती।
यहां चेक करें ई-चालान:-अगर आपको भी ये जानना चाहते हैं कि आपका कोई ई-चालान पेंडिंग तो नहीं है आप इंटरनेट की मदद से इसका पता लगा सकते हैं। इसके लिए आपको https://echallan.parivahan.gov.in/ पर जाना होगा। यहां आपको चेक चालान स्टेटस का विकल्प मिलेगा। इस विकल्प पर जाकर आप अपनी गाड़ी के नंबर, ड्राइविंग लाइसेंस के नंबर या एसएमएस से प्राप्त ई-चालान के नंबर से उसकी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। एसएमएस से ई-चालान की जानकारी भेजने के साथ ही इसका लिंक भी दिया जाता है। यहां पर आपको चालान का ऑनलाइन भुगतान करने का विकल्प भी मिल जाएगा।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com