नहीं सुधर रहा पाकिस्तान, अब राष्ट्रपति कोविंद के लिए अपना हवाई क्षेत्र खोलने से किया इनकार

nhisudhr
इस्लामाबाद। भारत सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से Article 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान पूरी तरह से बौखला गया है। वह हर कदम पर भारत को गीदड़ भभकी दे रहा है। साथ ही पाकिस्तान ने भारतीय राजनयिक को वापस भेज दिया और द्विपक्षीय व्यापार भी खत्म कर दिया। Article 370 का हटना पाकिस्तान में पनाह लिए हुए आतंकवाद के लिए बड़ी चुनौती पैदा हुई, जहां बस पाकिस्तान ये चाहता है कि भारत अपना ये फैसला वापस ले ले, लेकिन UN समेत तमाम बड़ों देशों से मदद मांगने पर भी उसका यह सपना पूरा ना हो सका।पाकिस्तान अपनी बौखलाहट के मारे ना जाने क्या-क्या बयान दे रहा है। अब जहां इस बार पाकिस्तान ने फिर एक नापाक हरकत कर दोनों देशों के रिश्तों में तनाव बढ़ाने का काम किया है। बता दें कि इस बार पाकिस्तान ने भारत के राष्ट्रपति के लिए अपना हवाई क्षेत्र नहीं खोलने का फैसला लिया है। जानकारी के मुताबिक, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को आइसलैंड जाने के लिए पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र में प्रवेश करना था।पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने शनिवार को कहा कि इस्लामाबाद ने भारत के राष्ट्रपति को अपनी हवाई क्षेत्र में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी है। इस दौरान भी उन्होंने अपना झूठा आलाप रागा और पाकिस्तानी मीडिया से बात करते हुए कहा कि हम कश्मीर के लिए संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार परिषद में जाएंगे।बता दें कि भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आइसलैंड, स्विट्जरलैंड और स्लोवेनिया से भारत के बीच आर्थिक संबंधों को बढ़ावा देने के लिए एक व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल के हिस्से के रूप में अगले सप्ताह विदेशी यात्रा पर जाएंगे। राष्ट्रपति कोविंद सोमवार को तीन देशों की यात्रा पर जाएंगे।
9 सितंबर को जाना है आइसलैंड:-इस दौरे के दौरान राष्ट्रपति कोविंद खासकर पुलवामा हमले समेत इस साल की आतंकवादी घटनाओं के आलोक में भारत की राष्ट्रीय चिंताओं पर उन देशों के शीर्ष नेतृत्व को जानकारी देंगे। कोविंद नौ सितंबर को पहले आइसलैंड पहुंचेंगे और वहां के राष्ट्रपति गुडनी जॉनसन और प्रधानमंत्री कैट्रिन जाकोसडोट्टिर से बातचीत करेंगे।
11 को स्विट्जरलैंड:-जानकारी के मुताबिक, राष्ट्रपति आइसलैंड के बाद स्विट्जरलैंड के दौरे पर जाएंगे। वह 11 सितंबर को पहुंचेंगे और 15 को वहां से रवाना होंगे। इस दौरान वह स्विट्जरलैंड के राष्ट्रपति यूली मौरेर और मंत्रिमंडल के सदस्यों से मिलंगे।
15 सितंबर को स्लोवेनिया;-अंत में राष्ट्रपति कोविंद स्लोवेनिया जाएंगे। कोविंद 15 सितंबर को स्लोवेनिया जाएंगे। वह वहां के राष्ट्रपति बोरूत पाहोर और प्रधानमंत्री मार्जन सारेक के साथ व्यापक वार्ता करेंगे। बताया गया कि वहां पर कोविंद के भारतीय समुदाय के लोगों द्वारा एक स्वागत कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com