Coronavirus Alert: दुनिया के कई देशों में डॉक्टरों की कमी से बढ़ रही चिंता, भारत पर भी असर

duniake

नई दिल्ली। ओईसीडी के हालिया आंकड़े बताते हैं कि दुनिया के कई देशों में डॉक्टरों की संख्या प्रति एक हजार लोगों पर बहुत ही कम हैं। जर्मनी में सर्वाधिक प्रति एकहजार लोगों पर 4.3 डॉक्टर और स्पेन में 3.9 डॉक्टर हैं। अमेरिका में डॉक्टरों की संख्या 2.9 से कुछ कम है। चीन में प्रति एक हजार लोगों पर करीब दो डॉक्टर हैं। वहीं दुनिया के प्रमुख देशों में भारत की स्थिति सबसे खराब है।कोविड-19 का प्रकोप दुनिया के दूसरे कई देशों के बाद अब भारत की परेशानियों को बढ़ा रहा है। ऐसे में चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े लोगों की ओर दुनिया उम्मीदों से देख रही है। दुनिया के लगभग हर देश में डॉक्टर, नर्स और अन्य चिकित्सा कर्मी मरीजों के इलाज के लिए और इस महामारी से निपटने के लिए लगातार काम में जुटे हैं। इसके चलते कई बार वे खुद भी संक्रमित हो जाते हैं। जैसे-जैसे दुनिया में स्थितियां बिगड़ रही हैं चिकित्सा क्षेत्र से जुड़े लोगों की चुनौतियां भी बढ़ रही है। ऐसे में आबादी के हिसाब से दुनिया के प्रमुख देशों में कितने डॉक्टर हैं, ये जानना जरूरी है।
चीन और भारत में डॉक्टरों की कमी;-ओईसीडी के आंकड़ों के मुताबिक, जर्मनी में प्रति हजार मरीजों पर 4.3 डॉक्टर, कोरोना वायरस से सबसे अधिक प्रभावित इटली में प्रति हजार लोगों पर 4 डॉक्टर, स्पेन में प्रति हजार लोगों पर 3.9 डॉक्टर, ऑस्ट्रेलिया में प्रति हजार डॉक्टरों पर 3.7 डॉक्टर, ब्रिटेन में प्रति हजार लोगों पर 2.9 डॉक्टर, अमेरिका में प्रति हजार लोगों पर 2.6 डॉक्टर, फ्रांस में प्रति हजार लोगों पर 2.3 डॉक्टर, दक्षिण कोरिया में प्रति हजार लोगों पर 2.3 डॉक्टर, चीन में प्रति हजार लोगों पर 2 डॉक्टर और भारत में प्रति हजार डॉक्टरों पर 0.8 डॉक्टर मौजूद हैं।दुनिया के लगभग हर देश में डॉक्टर, नर्स और अन्य चिकित्सा कर्मी मरीजों के इलाज के लिए और इस महामारी से निपटने के लिए लगातार काम में जुटे हैं। इसके चलते कई बार वे खुद भी संक्रमित हो जाते हैं।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com