Coronavirus: कोरोना वायरस के चलते एनपीआर और जनगणना का पहला चरण टलने की संभावना

coronavirus

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के प्रसार के मद्देनजर एक अप्रैल से शुरू होने वाली राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को अपडेट करने और जनगणना-2021 के पहले चरण की कवायद को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित किए जाने की संभावना है। इस संबंध में औपचारिक आदेश एक-दो दिनों में जारी किया जा सकता है।
एनपीआर और जनगणना की कवायद एक अप्रैल से 30 सितंबर तक की जानी है:-गृह मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया, इस मामले में सरकार में सर्वोच्च स्तर पर विचार-विमर्श किया जा रहा है। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक एनपीआर को अपडेट करने और जनगणना के लिए घरों को सूचीबद्ध करने की कवायद एक अप्रैल से 30 सितंबर तक की जानी है।
कई राज्य सरकारें एनपीआर का विरोध कर रही हैं:-पिछले हफ्ते गृह मंत्रालय ने कहा था कि जनगणना-2021 और एनपीआर को अपडेट करने की तैयारियां चरम पर हैं और ये कवायद एक अप्रैल से शुरू होंगी। मालूम हो कि कई राज्य सरकारें एनपीआर का विरोध कर रही हैं और कुछ विधानसभाओं ने इस पर आपत्तियां जताते हुए प्रस्ताव भी पारित किए थे। जो राज्य एनपीआर का विरोध कर रहे हैं उनमें केरल, बंगाल, पंजाब, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और बिहार शामिल हैं। हालांकि ज्यादातर राज्यों ने यह भी कहा था कि वे जनगणना के लिए घरों को सूचीबद्ध करने की कवायद में सहयोग करेंगे।
आधिकारिक घोषणा एक या दो दिन में कर दी जाएगी;-अधिकारियों के मुताबिक इसकी आधिकारिक घोषणा एक या दो दिन में कर दी जाएगी। समाचार एजेंसी पीटीआई ने गृह मंत्रालय के एक अधिकारी के हवाले से बताया कि सरकार में एनपीआर और जनगणना 2021 लेकर उच्च स्तरीय चर्चाएं चल रही हैं और कोरोना वायरस के प्रभाव की वजह से यह काम आगे बढ़ाया जा सकता है।एनपीआर, हाउस लिस्टिंग और जनगणना 2021 का काम एक अप्रैल से 30 सितंबर के बीच होना था। बीते सप्ताह गृह मंत्रालय ने कहा था कि एनपीआर और जनगणना का काम शुरू करने की तैयारियां ज़ोरो पर हैं और यह एक अप्रैल से शुरू हो जाएगा।
जनगणना और एनपीआर में देरी होना तय:-एक अप्रैल से शुरू होने वाली जनगणना और एनपीआर की प्रक्रिया पर केंद्र सरकार फिलहाल रोक लगा सकती है। कोरोना वायरस भारत में तेजी से फैलता जा रहा है इसके मद्देनजर गृह मंत्रालय ने आशंका जताई है कि जनगणना और एनपीआर में भी देरी हो सकती है। कोविड-19 को देखते हुए इसमें देरी होना तय लग रहा है।
कोरोना वायरस की वजह से देर हो सकती है:-जनगणना और एनपीआर का पहला चरण 1 अप्रैल से शुरू होकर सितंबर तक चलना था, लेकिन कोरोना वायरस की वजह से इसमें देर हो सकती है। राज्यों को 1 अप्रैल से जनगणना का काम शुरू करना था, लेकिन मौजूदा हालात में ये संभव नहींं है।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com