Coronavirus: खामनेई ने कहा- हो सकता है कि यह वायरस अमेरिका द्वारा पैदा किया गया हो

khaamnoyi

दुबई। ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई ने कोरोना वायरस के प्रकोप से लड़ने के लिए अमेरिका की सहायता की पेशकश को ठुकरा दिया है। बकौल खामनेई, ‘हो सकता है कि यह वायरस अमेरिका द्वारा पैदा किया गया हो।’ बता दें कि तेहरान के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम को लेकर अमेरिका ने ईरान पर कई तरह के प्रतिबंध लगा रखे हैं। इसमें कच्चे तेल की बिक्री पर रोक प्रमुख है। इसके चलते ईरान को आर्थिक दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।
खामनेई ने कहा- अमेरिका हमारा कट्टर दुश्मन है:-एक टीवी संबोधन में खामनेई ने कहा, ‘अमेरिका हमारा कट्टर दुश्मन है। हो सकता है कि उसकी दवा वायरस को और फैला दे। अगर वह डॉक्टर और थेरेपिस्ट भेजते हैं तो वह आकर यह देखेंगे कि वायरस का प्रभाव कैसे हो रहा है, क्योंकि ऐसा कहा जाता है कि वायरस का एक हिस्सा ईरान के लिए बनाया गया है।’ खामनेई ने अपने बयान के संदर्भ में किसी वैज्ञानिक तथ्य का हवाला तो नहीं दिया है, लेकिन उनकी इस टिप्पणी को इस महीने की शुरुआत में चीन सरकार के प्रवक्ता से जोड़कर देखा जा रहा है।
चीन ने कहा था- हो सकता है कि वुहान में अमेरिकी सेना कोरोना वायरस को लाई हो;-बता दें कि चीन सरकार के प्रवक्ता लिझियान झाओ ने ट्वीट करके कहा था कि हो सकता है कि वुहान में अमेरिकी सेना इस वायरस को लाई हो। हालांकि उन्होंने भी अपने दावों के समर्थन में कोई प्रमाण नहीं दिए थे। उनकी इस टिप्पणी पर अमेरिका ने कड़ा एतराज जताया था और चीन के राजदूत को तलब कर कड़ी प्रतिक्रिया दर्ज कराई थी। बता दें कि वुहान पहला वह शहर है जहां पर वायरस संक्रमित पहले व्यक्ति के बारे में पता चला था।
कर्फ्यू तोड़ने पर श्रीलंका में 340 लोग गिरफ्तार:-राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू तोड़ने के आरोप में श्रीलंका में 340 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। श्रीलंका के राष्ट्रपति गोतबाया राजपक्षे ने शुक्रवार से सोमवार तक राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू का एलान किया था। पहले यह कर्फ्यू सोमवार को खत्म होना था, लेकिन बाद में इसे बढ़ा दिया गया था।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com