मानसिक रूप से बीमार एक महिला के पेट से करीब डेढ़ किलो चूड़ियां और लोहे की कील निकाली

नई दिल्ली: मानसिक रूप से बीमार एक महिला के पेट से यहां सिविल अस्पताल में ऑपरेशन के बाद करीब डेढ़ किलो वजन के मंगलसूत्र, चूड़ियां और लोहे की कील निकाली गई हैं. एक सीनियर डॉक्टर ने मंगलवार को यह जानकारी दी. डॉक्टर ने बताया कि करीब 45 साल की महिला संगीता ‘एकुफेजिया’ नाम की एक दुर्लभ विकृति से ग्रस्त है जिसकी वजह से व्यक्ति धातु की चीजों को खाने लगता है.अस्पताल के डॉक्टर नितिन परमार ने बताया कि करीब दो घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद महिला के पेट से लोहे की कीलें, नट-बोल्ट, सेफ्टी पिन, यू-पिन, बालों में लगाने वाली पिन, कंगन, चूड़ियां, चेन, मंगलसूत्र समेत कई दूसरी चीजें भी निकाली गईं. एक सरकारी मानसिक चिकित्सालय से महिला को यहां लाया गया था. सड़कों पर बेसुध घूमती मिलने के बाद महिला को मानसिक चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था.डॉक्टर परमार ने कहा, ‘उसने पेट में दर्द की शिकायत की थी. उसका पेट पत्थर की तरह कठोर था. एक्स-रे से खुलासा हुआ की उसके पेट में कई बाहरी चीजें हैं. सेफ्टी पिन उसके फेफड़ों में धंसी थीं और उसके पेट में भी इनसे छेद हो गया था.’डॉक्टरों के मुताबिक एकुफेगिया बीमारी से ग्रसित व्यक्ति लोहा और धातु से बनी वस्तुओं को निगल जाता है. कोई भी वस्तु नुकीली हो या फिर न पचने वाली, बिना किसी परवाह के शख्स ऐसी चीजों को निगल लेता है. यह बीमारी आमतौर पर मानसिक रूप से विक्षिप्त व्यक्तिओं में पाई जाती है, जिन्हें खाने की वस्तुओं की सोच-समझ नहीं रहती. साल में ऐसी बीमारी के एक-दो केस ही आते हैं.

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com