बिहार मे 13 अरब के महाघोटाले का पर्दाफाश

बिहार,( शम्मी आनंद )- बिहार शहरी आधारभूत संरचना विकास निगम (बुडको) में 13 अरब से अधिक के वित्तीय अनियमितता उजागर हुई है। सीएजी ने अब तक के पांच निरीक्षण रिपोर्ट्स में बुडको के भ्रष्टाचार को उजागर करते हुए अपनी रिपोर्ट सरकार और लोक लेखा समिति को सैौंपी है। इसमें 13 अरब से अधिक के वित्तीय अनियमितता की ओर ध्यान आकृष्ट किया है।सीएजी की ऑडिट के अनुसार बुडको की 2009 में स्थापना से लेकर जून 2017 के बीच भारी वित्तीय अनियमितता हुई है। मामले की खास बात यह है कि सीएजी की अॉडिट रिपोर्ट द्वारा कई बार इन गड़बड़ियों पर आपत्तियां उठाई गई लेकिन इसके बावजूद बुडको ने इसका जवाब तक देना उचित नहीं समझा। बता दें कि बुडको की स्थापना मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पहल पर 16 जून 2009 को की गई थी और 1956 की कम्पनी एक्ट के तहत बुडको के गठन का उद्येश्य शहरी विकास को गति देना था। लेकिन शहरी लोगों को तेजी से विकास करने के सपने दिखाकर सरकार के पैसे का पिछले आठ सालों से बंदरबाट किया जाता रहा है।महालेखाकार कार्यालय, पटना की ऑडिट रिपोर्ट में बुडको में हुए भ्रष्टाचार का खुलासा किया गया है। सीएजी ने अब तक के पांच निरीक्षण रिपोर्ट्स में बुडको के भ्रष्टाचार को उजागर करते हुए अपनी रिपोर्ट सरकार और लोक लेखा समिति को सैौंपी है, जिसमें 13 अरब से अधिक की वित्तीय गड़बड़ियां पाईं गईं हैं। सीएजी ने इस मामले में सबसे पहले साल 2011-12 में बुडको का ऑडिट किया था और फिर वर्ष 2013-14 और 2015-16,  2016-17 और 2017-18 का ऑडिट किया। इन सभी ऑडिट रिपोर्ट में सीएजी ने बुडको के भ्रष्टाचार को पकड़ा और अपनी रिपोर्ट सरकार और लोक लेखा समिति को सौंपी।

बता दें कि बुडको ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कई ड्रीम प्रोजेक्ट को पूरा किया है, लेकिन इस दौरान वह भ्रष्टाचार की सारी सीमाओं को भी पार कर गया। सीएजी ने शुरुआती ऑडिट में ही 125 करोड़ 53 लाख की लागत से पटना में बनाए गए बुद्धा स्मृति पार्क में कई वित्तीय अनियमितताओं को पकड़ा था और इसमें कुल 67 करोड़ 20 लाख से अधिक की वित्तीय गड़बड़ियां सामने आईं थी।

रिपोर्ट के अनुसार पार्क के निर्माण में संवेदक पारसनाथ डेवलपर्स लिमिटेड द्वारा भारी अनियमतता की गई। इसमें बुडको के अधिकारियों की भूमिका अहम रही। बुद्धा स्मृति पार्क बनाने में बीओक्यू यानि स्टीमेट 58 से 78 प्रतिशत तक अधिक बनाकर सरकारी राशि की बंदरबांट की गई थी।

About Sting Operation

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

themekiller.com